आसान होंगे होम लोन, सरकार के पोर्टल पर आएंगे सारे बैंक

गुरुदत्त तिवारी | भोपाल .जल्द ही प्रदेश में होम लोन की व्यवस्था में बदलाव होने जा रहा है। नई व्यवस्था में हाेम लोन के लिए आपको अलग-अलग बैंक में जाकर आवेदन करने की जरूरत नहीं होगी। जल्द ही आप एक ही पोर्टल पर बैंक लोन के लिए आवेदन कर सकेंगे। यह लोन आपकी च्वाइस और प्राथमिकता के अनुसार संबंधित बैंक को चला जाएगा। पोर्टल पर ही बैंकों की शर्त और चेकलिस्ट देखकर आप यह पता लगा सकते हैं कि कौन सा बैंक आपको लोन देगा और कौन सा नहीं।

दरअसल, मध्यप्रदेश में सभी बैंक संस्थागत वित्त (डीआईएफ) के साथ मिलकर होम लोन का एक डेडिकेटेड पोर्टल तैयार करने की दिशा में काम कर रहे हैं। पिछले दिनों मुख्य सचिव एसआर मोहंती की अगुवाई में हुई राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति (एसएलबीसी) की बैठक में इस पर विस्तार से चर्चा हुई है।

राज्य सरकार और बैंक नए घर खरीदने वालों को सुविधाजनक ढंग से लोन मुहैया कराने के उपायों पर विचार कर रही है। इसमें यह बात निकलकर आई कि ग्राहकों को हाेम लोन के लिए आवेदन देकर उसे स्वीकृत कराने में लंबा समय लगता है। बैंकर्स का मत था कि इसके लिए एक अलग से पोर्टल होना चाहिए। राज्य सरकार भी इस पोर्टल के माध्यम से यह पता लगा सकती है कि होम लोन के आवेदकों के आवेदन किस आधार पर निरस्त किए जा रहे हैं। इस पर सारे बैंक एकमत दिखे। परस्पर सहमति बनने के बाद दिसंबर से इस पोर्टल पर काम शुरू हो सकता है।

ये दिक्कत दूर होगी... होम लोन में देरी के चलते कई बार ग्राहक घर खरीदने का इरादा ही बदल देता है

क्रेडाई के मुताबिक भोपाल में करीब 530 रियल एस्टेट प्रोजेक्ट रेरा में पंजीकृत हैं। इनके लिए 20 हजार से ज्यादा घर बनाए जा रहे हैं। बैंक लोन देते समय सिबिल रिपोर्ट पर खासा महत्व देते हैं। कई बैंक ऐसे हैं जो इससे कम स्कोर पर भी लोन दे देते हैं। चूंकि ग्राहक सबसे पहले एसबीआई में आवेदन करता है। ऐसे में ग्राहक आवेदन करने के बाद दो से तीन माह तक लोन स्वीकृत होने का इंतजार करता है। उसके बाद वह दूसरे बैंक में जाता है। इसमें वह काफी परेशान हो जाता है। इसी के चलते कई बार ग्राहक घर खरीदने का इरादा ही बदल देते हैं। एक ही पोर्टल होने के बाद ग्राहक इन दिक्कतों से बच जाएगा।

अभी प्रदेश में हाउसिंग सेक्टर की स्थिति

मद सितंबर-18 सितंबर-19 बढ़ोतरीकुल होमलोन खाते 9.50लाख 9.53 0.32%हाेम लोन का बकाया ~31,156करोड़ ‌‌‌‌~36,065 करोड़ 15.76%प्रति खाते होम लोन का बकाया ‌~3.28लाख ‌‌~3.78 लाख 15.76%एनपीए होम लोन खाते 1.25लाख 2.61 लाख 108%होम लोन की एनपीए राशि ~1,375करोड़ ~2,369 करोड़ 72.29%होम लोन के कुल कर्ज पर एनपीए% 4.41% 6.57% 48.84%

ग्राहकों के आवेदन निरस्त होने की संभावना में कमी आएगीहोम लोन के लिए एक ही पोर्टल रखने का विचार नया है। हमें उम्मीद है कि इसके बाद कम पूंजी वाले बैंकों को भी अच्छे ग्राहक मिलेंगे। साथ ही ग्राहकों के अावेदन निरस्त होने की संभावना कम हो जाएगी। एसएलबीसी के मिनट स्वीकृत होने के बाद इस पोर्टल पर काम शुरू हो जाएगा। एसडी माहुरकर, समन्वयक, एसएलबीसी, मप्र

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Home loans will be easy, all banks will come on government portal

Disclaimer : Khabar247 lets you explore worldwide viral news just by analyzing social media trends. Tap read more at source for full news. The inclusion of any links does not necessarily imply any endorsement of the views expressed within them.

संबंधित ख़बरें