एयरपोर्ट में घुसे प्रदर्शनकारी, भारत ने अपने नागरिकों से कहा- हालात ठीक होने तक वैकल्पिक मार्ग चुनें

बीजिंग. हॉन्ग-कॉन्ग में लोकतंत्र समर्थकों द्वारा हवाईअड्‌डे पर नाकाबंदी किए जाने से विमानों की उड़ान पर मंगलवार को लगातार दूसरे दिन भीरोक लगा दी गई। एयरपोर्ट पर प्रदर्शनकारियों द्वारा अवरोध उत्पन्न किए जाने से सोमवार को भी उड़ानें बंद थीं। भारत ने भी अपने नागरिकों के लिए यात्रा को लेकर चेतावनी जारी की है।

भारतीय दूतावास ने अपनी वेबसाइट पर जारी नोटिस में लिखा, “लोगों द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन से हॉन्ग-कॉन्ग एयरपोर्ट पर विमानों का संचालन 12 अगस्त से गंभीर रूप से बाधित हो गया है। यह संभावना है कि 13 अगस्त को विमानों का संचालन शुरूहो। यदि प्रदर्शन जोर पकड़ता है तो हो सकता है कि विमानों के संचालन में बिलंब हो या उड़ानें रद्द हों। अत: भारतीय यात्रियों को यह निर्देश दिया जाता है कि जब तक एयरपोर्ट पर विमानों का संचालन सामान्य नहीं होता, तब तक वे असुविधाओं से बचने के लिए वैकल्पिक मार्गों से यात्रा करें।”

1997 में ब्रिटेन ने चीन कोहॉन्ग-कॉन्ग सौंप दिया था

इससे पहले, चीन के विशेष प्रशासित क्षेत्र हॉन्ग-कॉन्ग में पिछले दो महीने से लोकतंत्र की मांग को लेकर प्रदर्शन जोरों पर है। हालांकि 1997 से पहले इस पर ब्रिटेन का अधिकार था लेकिन उसने बाद में इसे चीन को सौंप दिया था। तब से यहां प्रदर्शन हो रहे हैं। मौजूदा प्रदर्शन प्रत्यर्पण विधेयक को लेकर हो रहे हैं। जिसे फिलहाल निलंबित कर दिया गया है। इस विधेयक के अनुसार, अगर कोई व्यक्ति चीन में अपराध करके हॉन्ग-कॉन्ग में शरण लेता है तो उसे जांच प्रक्रिया से गुजरने के लिए चीन जाना पड़ेगा। इसके विरोध में यहां लगातार प्रदर्शन जारी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today एयरपोर्ट पर इकट्‌ठा प्रदर्शनकारी।