वर्ल्ड कप में रिजर्व डे नहीं रखने पर आईसीसी की सफाई- बेमौसम बारिश का भरोसा नहीं

खेल डेस्क. इंग्लैंड एंड वेल्स में खेला जा रहा वर्ल्ड कप बारिश की भेंट चढ़ता जा रहा है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने टूर्नामेंट के लिए सुरक्षित दिन (रिजर्व डे)नहीं रखे। मंगलवार को बांग्लादेश-श्रीलंका मैच बगैर टॉस के ही बारिश के कारण रद्द हो गया। इसके बाद मैचों के लिए अलग से रिजर्व डे रखने की मांग उठ रही है। इस पर आईसीसी सीईओ डेव रिचर्ड्सन ने कहा कि यह बेमौसम बरसात है। रिजर्व डे रखने से टूर्नामेंट और लंबा हो सकता था, जो व्यहारिक रूप से सही नहीं होता।

रिचर्डसन ने कहा, ‘‘यह पूरी तरह से बेमौसम की बरसात है। जितनी बारिश पूरे जून में होती है, उससे दोगुनी पिछले दो दिन में हो गई। ब्रिटेन में यह महीना सबसे सूखा माना जाता है। जून 2018 में केवल दो मिमी बारिश हुई थी, लेकिन पिछले 24 घंटों में ही दक्षिण पूर्व इंग्लैंड में 100 मिमी बारिश हो गई।’’इससे पहले भी दक्षिण अफ्रीका-वेस्टइंडीज मैचरद्द हो चुका है। इस मैच में केवल 7.3 ओवर ही फेंके गए थे।

‘रिजर्व डे से कई तरह की परेशानियां होंगी’सीईओ ने कहा, ‘‘हम रिजर्व डे रख भी दें, लेकिन इसकी क्या गारंटी है कि उस दिन बारिश नहीं होगी? रिजर्व डे रखने से पिच और टीम की तैयारियां से लेकर यात्रा के दिनों से संबंधित कई तरह की परेशानियां होंगी। इससे दर्शक भी प्रभावित होंगे, जिन्होंने मैच देखने के लिए कई घंटों की यात्रा की है।’’

बांग्लादेश के कोच ने भी आईसीसी से नाराजगी जताईअब तक टूर्नामेंट में बांग्लादेश-श्रीलंका समेत तीन मैच बारिश के कारण रद्द हो चुके हैं। रिजर्व डे नहीं रखने पर बांग्लादेश के कोच स्टीव रोड्स ने भी आईसीसी से अपनी नाराजगी जताई थी। स्टीव ने गुस्से में कहा था, ‘हम आदमी को चांद पर बैठा दें, क्यों हमें रिजर्व डे चाहिए? असल में टूर्नामेंट का शेड्यूल ही काफी लंबा है।’

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today ICC defends its decision to not have reserve days for World Cup 2019 in England & wales