क्यों एपल को अपने सबसे बड़े एनुअल इवेंट के लिए देसी डेवलपर्स की जरूरत है, ये है कारण

नई दिल्ली: पलाश तनेजा जब 10वीं क्लास में थे तो उन्हें डेंगू हो गया था और वो तीन महीने बिस्तर पर रहे. 18 साल के नई दिल्ली के इस युवा ने फिर एक ऐसा एप बनाया जिससे आप अस्पताल में बेड की उपलब्धता का पता कर सकते