नगर निगम कागज के बजाय अब एसएमएस से भेजेगा बकायदारों को नोटिस

रायगढ़. डिजिटल इंडिया के तहत अब हर हाथ में स्मार्ट फोन है। इस बात को ध्यान में रखते हुए निगम अब कागजी नोटिस देने की बजाय बल्क एसएमएस का सहारा लेगी। शुरुआत में निगम एसएमएस का इस्तेमाल सिर्फ राजस्व संबंधी नोटिस के लिए करेगा। निगम अभी सिर्फ संपत्ति कर, जल कर, समेकित कर, दुकान किराया से संबंधित बकाया राशि वसूल करने एमएसएस से नोटिस भेजेगा। इससे निगम का समय और पैसे दोनों की बचत होगी।

पेपर बनाने के लिए बांस, पैरा व पानी का इस्तेमाल होता है, ऐसे में पर्यावरण को भी इससे फायदा होगा। नगर निगम यह व्यवस्था जल्द ही शुरू करने वाला है। इसके लिए निगम का राजस्व विभाग ने तैयारी पूरी कर ली है। सिर्फ नगर निगम आयुक्त के अनुमोदन का इंतजार है। आयुक्त के हस्ताक्षर के बाद यह काम शुरू हो जाएगा। नगर निगम में वर्तमान व्यवस्था के अनुरूप वार्ड मोहर्रिरों को फिल्ड में जाकर बकायादारों को नोटिस बांटना होता है।

इस दौरान उन्हें मकान ढूंढने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इससे बेवजह समय की बर्बादी होती है। नई व्यवस्था में निगम के वार्ड मोहर्रिरों को अब मशक्कत करने की बजाय संबंधित बकायादार का एक्टिव मोबाइल लाकर सिस्टम ऑपरेटर को देना होगा। इसके बाद ऑपरेटर सीधे एक क्लिक से बल्क एसएमएस के सहारे सैकडों लोगों को नोटिस भेज सकेगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today raigarh municipal corporation will send outstanding notices on sms instead of papers