नमाज पढ़ने गए थे बांग्लादेशी क्रिकेटर, तभी मस्जिद में होने लगी फायरिंग, जान बचाकर भागे क्रिकेटर्स

स्पोर्ट्स डेस्क. क्राइस्टचर्च में अल-नूर और एक अन्य मस्जिद में शुक्रवार को हुई गोलीबारी की घटना के बाद बांग्लादेश क्रिकेट टीम का न्यूजीलैंड दौरा रद्द हो गया है। दोनों देशों के बीच सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच 16 मार्च से इसी शहर में खेला जाना था। इस बात की जानकारी न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दी। खिलाड़ियों का कहना है कि उन्होंने ऐसा भयावह मंजर पहले कभी नहीं देखा। न्यूजीलैंड कीप्रधानमंत्रीजैसिंडा अर्डर्न ने इस घटना को न्यूजीलैंड के इतिहास का सबसे काला दिन बताया। गोलीबारी की घटना में अब तक 40 लोगों के मारे जाने की खबर है, वहीं 20 से ज्यादा लोगगंभीर रूप से घायलहैं। हालांकि, बांग्लादेश क्रिकेट टीम के सभी खिलाड़ी सुरक्षित हैं।

नमाज पढ़नेगए थे बांग्लादेशीखिलाड़ी

- बता दें कि बांग्लादेश और न्यूजीलैंड के बीच 16 मार्च से क्राइस्टचर्च में तीन मैच की सीरीज का आखिरी टेस्ट खेला जाना था। बांग्लादेश का न्यूजीलैंड दौरा 10 फरवरी से 20 मार्च तक था। न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने इस घटना से प्रभावित हुए परिवारों के प्रति अपनी संवेदना जाहिर की है। बोर्ड ने ट्वीट कर बताया, ‘दोनों क्रिकेट बोर्डों ने मिलकर यह निर्णय लिया है कि क्रास्टचर्च टेस्ट को रद्द किया जाए। दोबारा बता दें कि दोनों टीमें और उनके सपोर्ट स्टाफ सुरक्षित हैं।’- गोलीबारी स्थानीय समय के मुताबिक दोपहर करीब 1.45 बजे हुई। बांग्लादेश टीम के कुछ सदस्य कोचिंग स्टाफ के साथ नमाज पढ़ने अल-नूर मस्जिद गए थे। खिलाड़ी जैसे ही बस से उतरे, उन्होंने मस्जिद के अंदर गोलियों की आवाज सुनी। वे भीतर जाने ही वाले थे कि कई लोग अंदर से भागते हुए निकले। कुछ लोगों ने खिलाड़ियों के सामने ही दम तोड़ा। 10 मिनट में ही खिलाड़ी वहां से होटल के लिए निकल गए।- बांग्लादेश के क्रिकेटर तमीम इकबाल ने ट्वीट किया- हमलावरों से पूरी टीम सुरक्षित है। यह एक भयावह अनुभव रहा। हमारे लिए प्रार्थना करें। बांग्लादेश टीम के प्रवक्ता ने कहा कि पूरी टीम सुरक्षित है लेकिन सभी खिलाड़ी मानसिक रूप से तनाव में हैं।

टीम को होटल में ही रुकने को कहा गया

- ESPNक्रिकइन्फो के मुताबिक, बांग्लादेश टीम के कुछ सदस्य शुक्रवार की नमाज के लिए बस से मस्जिद की ओर जा रहे थे। उनकी बस मस्जिद के करीब पहुंची ही थी, तभी यह घटना हो गई। अब टीम वापस अपने होटल लौट आई है।- बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के प्रवक्ता जलाल यूनुस ने न्यूज एजेंसी को बताया, ‘टीम के ज्यादातर सदस्य दोपहर की नमाज पढ़ने के लिए बस से मस्जिद की तरफ जा रहे थे। वे अंदर जाने ही वाले थे कि तभी यह घटना हुई। हालांकि, वे सभी सुरक्षित हैं, लेकिन वे गहरे सदमे में हैं। हमने टीम से होटल के अंदर ही ठहरने को कहा है।’

हमलावर ने फेसबुक पर लाइव कियाकत्लेआम

- न्यूजीलैंड पुलिस के मुताबिक, हमलावर एक ऑस्ट्रेलियाई युवक ब्रेंटन टैरेंट (28) था। उसने मस्जिद में घुसने से पहले ही फेसबुक पर लाइव स्ट्रीमिंग शुरू कर दी। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे फुटेज में हमलावर को मस्जिद के अंदर घुसकर लोगों पर गोलियां बरसाते देखागया। हालांकि, घटना के बाद फेसबुक और ट्विटर ने यह वीडियो ब्लॉक कर दिए हैं।

- गोलीबारी के बाद हमलावर कोवापस अपनी कार में बैठकर बंदूक के अटकने और लोगों को आसानी से मारने के बारे में भी बात की। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ब्रेंटन नेखतरनाक मंशा वाला37 पन्नों काएक मैनिफेस्टो भी लिखा था। ब्रेंटन के पास ऑस्ट्रेलियाईनागरिकता है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Bangladesh team escaped from a mosque near Hagley Park where there were active shooters. They ran back through Hagley Park back to the Oval. Bangladesh team escaped from a mosque near Hagley Park where there were active shooters. They ran back through Hagley Park back to the Oval. Bangladesh team escaped from a mosque near Hagley Park where there were active shooters. They ran back through Hagley Park back to the Oval.