महिला यात्री के पहनावे को देखकर फ्लाइट क्रू ने कहा- शरीर ढंकें या विमान से उतर जाएं

लंदन.इंग्लैंड के बर्मिंघम में एक महिला को सिर्फ इसलिए फ्लाइट से उतारने की धमकी दे दी गई, क्योंकि विमान के क्रू को उसके कपड़ों पर आपत्ति थी। फ्लाइट में बैठने के बाद महिला से यहां तक कहा गया कि या तो वह अपने कपड़े बदल लें या फिर फ्लाइट छोड़ दें। चौंकाने वाली बात यह है कि इस दौरान साथी यात्रियों में किसी ने भी महिला के बचाव में आवाज नहीं उठाई। इस घटना के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद एयरलाइन को दुर्व्यव्हार के लिए महिला सेमाफी मांगनी पड़ी।

ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक, पीड़ित महिला का नामएमिलीओ कॉनरहै। वह पिछले हफ्तेथॉमस कुक एयरलाइंस कंपनी के विमान से स्पेन के कैनरी आइलैंड जा रही थी। एमिली ने खुद इस घटना को ट्विटर पर पोस्ट किया है। एमिली के मुताबिक, यह उनकी जिंदगी का सबसे शर्मनाक अनुभव था। एयरपोर्ट प्रशासन और सिक्योरिटीचेकिंग ने उनके कपड़ों पर कोई आपत्ति नहीं जताई। लेकिन विमान का क्रू कपड़ों को अनुचित बताता रहा है। एमिली ने बताया कि विमान में चार क्रू मेंबर उनका सामान बाहर ले जानेकेलिए तैयार खड़ेथे।

महिला को कवर करने के लिए उसकी बहन ने जैकेटदिया

एमिली ने बताया किउन्होंने इस घटना के बाद फ्लाइट में सवार बाकीयात्रियों से अपने कपड़ों के बारे में पूछा, लेकिन किसी ने भी उनका साथ नहीं दिया। क्रू की धमकियों के चलते आखिरकार फ्लाइट में साथ सफर कर रही उनकीबहन नेउन्हेंशरीर ढकनेके लिए जैकेट दिया।एमिली ने कहा कि उनसेदो सीट पीछे बैठा एकव्यक्ति शॉर्ट पैंट्सऔर बनियान पहनकर यात्रा कर रहा था, लेकिन उसे कुछ नहीं कहा गया। मैंने अपने बगल वाले यात्री से पहनावे को लेकर पूछा लेकिन उसने कोई आपत्ति नहीं जताई।"

थॉमस कुक ने बयान जारी कर मांगी माफी

मंगलवार को इस मामले पर थॉमसकुक एयरलाइंस ने माफी मांगी है। एयरलाइंस ने बयान में कहा कि आमतौर पर यात्रियों के लिएएक उपयुक्त पोशाक नीति होती है। यह बिना किसी भेदभाव के पुरुषों और महिलाओं दोनों पर लागू होती हैं। लेकिन एमिली के साथ हुआ बर्ताव गलत था। इस मामले सेफ्लाइट क्रू को बेहतर ढंग से निपटना था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today emily oconnor to board thomas cook airlines birmingham to canary islands flight told cover

Disclaimer : Khabar247 lets you explore worldwide viral news just by analyzing social media trends. Tap read more at source for full news. The inclusion of any links does not necessarily imply any endorsement of the views expressed within them.

संबंधित ख़बरें