अस्पताल लाते समय ही प्रसूता की मौत पीएम के लिए करना पड़ा 10 घंटे इंतजार

विदिशा| शमशाबाद थाने के अंतर्गत जीरापुर गांव निवासी महिला सुनीता आदिवासी प|ी परसराम आदिवासी उम्र 45 साल नामक प्रसूता महिला की अस्पताल लाते समय रास्ते में मौत हो गई। महिला की मौत के बाद परिजनों को पोस्टमार्टम के लिए करीब 10 घंटे तक इंतजार करना पड़ा। इस संबंध में मृतक महिला सुनीता आदिवासी के भतीजे कमल सिंह ने बताया कि उसकी बुआ का मायका भियाखेड़ी गांव में है। रविवार रात करीब 11 बजे प्रसूति के लिए जननी एक्सप्रेस से विदिशा अस्पताल लेकर आ रहे थे। 8 महीने का गर्भ था। सीएमएचओ डा.शशि ठाकुर ने बताया कि महिला का पीएम किस कारण देरी से हुआ। इस संबंध में पूरी जानकारी लेकर कार्रवाई की जाएगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today