रमज़ान मुबारक: देश में निकला चांद, गुरुवार से शुरू होगा पाक महीना रमज़ान

नई दिल्ली: मुस्लिम समुदाय का पाक महीना रमज़ान कल से शुरू हो रहा है. आज चांद देखने के बाद मुस्लिम धर्मगुरुओं ने इस पाक महीने के शुरू होने का एलान किया. अब कल यानि गुरुवार से पहला रोजा शुरू होगा. इस्लाम धर्म में इस महीने को काफी अहमियत दी जाती है. लोग पूरे महीने इबादतों में मशगूर रहते हैं.

इमारत-ए-शरीया हिंद के सेक्रेटरी मुइजुद्दीन ने प्रेस रिलीज में बताया है कि रूयत-ए-हिलाल कमेटी और इमारत-ए-शरीया हिंद ने एक बैठक में बताया कि तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के कई हिस्सों में आज चांद दिखा है.

उन्होंने बताया कि रूयत-ए-हिलाल कमेटी और इमारत-ए-शरीया हिंद ने एलान किया है कि 17 मई को रमज़ान के महीने का पहला दिन है यानी कल पहला रोजा होगा.

आपको बता दें कि रमजान में रोज़े की शुरुआत चांद देखकर की जाती है और अगले एक महीने तक मुसलमान रोज़ा रखते हैं. रोज़ा शुरु होने के 29 या फिर 30 दिनों के बाद चांद देखकर ही रमजान का महीना खत्म होता और अगले दिन ईद मनाई जाती है, जिसे इद-उल-फितर कहा जाता है.

बाजारों में देखी जा रही है चहल पहल

रमजान शुरू होने से पहले ही बाजारों की रौनक बढ़ गई है. इस पाक महीने में इबादत के साथ-साथ मुस्लिम समुदाय का इफ्तार और शहरी की तैयारियों के लिए बाजारों में आना जाना शुरू हो जाता है. इफ्तार में आमतौर पर ज्यादातर मुसलमान फलों का सेवन करते हैं साथ ही खजूर खाना भी काफी अहम माना जाता है.

इबादत में गुजरता है पूरा दिन

इस महीने में रोज़ेदार सुबह की अज़ान (करीब 4 बजे से पहले) से पहले सेहरी करते हैं यानि कुछ खाते हैं और फिर दिनभर बिना कुछ खाए पिए बिताते हैं. शाम में मग़रिब की अज़ान यानि करीब 7 बजे के बाद इफ्तार के साथ अपना रोज़ा खोलते हैं. इस दौरान मुसलमान किसी तरह के भी खाने पीने की चीज़ों का इस्तेमाल नहीं करते हैं.